यही हैं प्रयास मानवगुरु का

हमारे संतुष्ट ग्राहक

रमेश पटेल

व्यावसायिक, गुजरात

हम अपनी बेटी के लिए 4 साल से सही जीवनसाथी की तलाश कर रहे थे। अगर हमें रिश्ता मिल भी जाए और सगाई भी कर ली, तो भी शादी की तैयारियाँ आगे नहीं बढ़ती थी। पैसों की समस्याएं इसकी सबसे बड़ी वजह थीं।

हम अपने बेटे के लिए भी एक योग्य दुल्हन खोज रहे थे। लेकिन उसमें भी बाधाएं आरही थी। हमें एखाद रिश्ता मिल भी जाए और दोनों परिवारों की पसंदी भी हो जाए, तो कभी -कभी कुंडली मैच नहीं होती थी, या परिवार अंतिम समय में रिश्ता तोड़ देते थे।

हम अपने बच्चों और उनके भविष्य के बारे में चिंतित थे जब एक दिन, हमें मानव गुरु के अनन्य ज्ञान के बारे में पता चला। और जब हमने सुना कि इतने सारे माता-पिता अपने बच्चों की शादी कर चुके हैं, तो हमने अनन्य ज्ञान को अपनाने का फैसला किया और मानव गुरु के अनन्य ज्ञान का पालन करना शुरू कर दिया। 3 महीने की अवधि में, हमने अपनी आर्थिक समस्याओं में एक बड़ा फरक देखा। हमारी पैसों की समस्याएं धीरे-धीरे हल हो गईं। जैसा कि हमने आर्थिक स्थिरता प्राप्त की, हमने अपनी बेटी की शादी बड़े धूम-धाम से की और उसकी शादी के लिए एक भव्य समारोह का आयोजन किया। इसके साथ ही, हमने अपने बेटे के लिए एक योग्य जीवनसाथी भी ढूंढ लिया और बेटे की भी शादी करा दी। मेरे दोनों बच्चे आज अपनी शादी शुदा जिंदगी में बहुत खुश हैं, और बहुत अच्छे जीवन जी रहे हैं।

मानव गुरु के अनन्य ज्ञान ने न केवल हमारी आर्थिक और विवाह संबंधी समस्याओं को हल किया बल्कि हमें अपने व्यवसाय में सफल होने और समृद्ध होने में मदद की, हमें हमारे स्वास्थ्य के मुद्दों से छुटकारा दिलाया, और मेरे छोटे बेटे को भी अपनी शिक्षा में उत्कृष्टता प्राप्त करने में मदद की।

हमने इस दुनिया में किसी को नहीं देखा है जो परिवार के हर एक सदस्य के जीवन में एक ही समय में परिवर्तन ला सकता है और वह भी 9 से 180 दिनों के अंदर। यह मानव गुरु और उनके अनन्य ज्ञान की विशिष्टता है।

हम अपने जीवन में हुए परिवर्तन से बहुत खुश हैं और मानव गुरु श्री चंद्रशेखर गुरुजी को धन्यवाद देना चाहते हैं। मैं इस दुनिया में हर किसी से अनुरोध करूंगा कि वह किसी भी प्रकार की जीवन-संबंधी समस्याओं से पीड़ित हों, तो कृपया मानव गुरु से संपर्क करें।

संपर्क करें